Search
Library
Log in
Watch fullscreen
last month|66 views

Gangaur 2021: पुरूष क्यों नही खा सकते हैं गणगौर पूजा का प्रसाद | Boldsky

Boldsky
Boldsky
According to mythological belief, the penance and worship performed by Maa Parvati through Gangaur Pujan is followed. He had done intense penance for the attainment of Shiva. She was then found as a husband. On the day of Gangaur worship, offerings are made to Gangaur. This prasad is taken by women and girls only. At the same time, it is prohibited for men.

गणगौर मां पार्वती और भगवान शिव की पूजा का पर्व है। चैत्र मास में शुक्ल पक्ष की तृतीया को गणगौर का त्योहार मनाया जाता है। वैसे तो इसे देश में अनेक स्थानों पर मनाया जाता है परंतु राजस्थान में इस त्योहार की रौनक अनोखी होती है। गणगौर के पूजन की तैयारियां होली के दूसरे दिन से शुरू होती हैं।गणगौर पूजन के दिन गणगौर को प्रसाद चढ़ाया जाता है। महिलाओं और बच्चियों द्वारा ही यह प्रसाद ग्रहण किया जाता है। वहीं, पुरुषों के लिए इसका निषेध है।

#Gangaur2021 #Gangaurprasad #Pujaprasad

Browse more videos

Browse more videos