Search
Library
Log in
Watch fullscreen
2 months ago|49 views

Ahoi Ashtami 2020: मासिक धर्म में अहोई अष्टमी व्रत पूजा कैसे करें | Boldsky

Boldsky
Boldsky
On Ahoi Ashtami, mothers fast for the long life of their children. This year, Ahoi will be fasted on Sunday 8 November. In this fast, women will open the fast after offering water after seeing the stars in the evening. This fast is kept nirjala and worshiped Ahoi Mayya in it. It is believed that by worshiping Ahoi Mata by keeping Nirjala fast on the eighth day of Kartik month, children have a long life. Silver donations are brought somewhere for the worship of Ahoi Mata and two donations are threaded on every Ahoi Ashtami. In this way, two silver grains are threaded in the garland every year and mothers wear that garland after worship. After this, on any good day, this garland is worshiped and lowered. After this, two silver beads are then threaded on the next hoi. This garland is also included in worship. Know Period Me Ahoi Ashtami Vrat Puja.

अहोई अष्टमी पर माताएं अपनी संतान की दीर्घ आयु के लिए व्रत रखती हैं। इस साल रविवार 8 नवंबर को अहोई का व्रत रखा जाएगा। इस व्रत में महिलाएं शाम को तारों को देखकर जल अर्पित करने के बाद व्रत को खोलेंगी। यह व्रत निर्जला रखा जाता है और इसमें अहोई मईया की पूजा-अर्चना की जाती है। मान्यता है कि कार्तिक मास की अष्टमी के दिन निर्जला व्रत रखकर अहोई माता की पूजा करने से संतान की लम्बी आयु होती है। अहोई माता की पूजा के लिए कहीं कहीं चांदी के दानें लाएं जाते हैं और हर अहोई अष्टमी पर दो दानें माला में पिरोए डाले जाते हैं। इस तरह हर साल माला में दो चांदी के दाने पिरोए जाते हैं और उस माला को माताएं पूजा के बाद धारण करती हैं। इसके बाद किसी भी अच्छे दिन इस माला की पूजा करके उतारा जाता है। इसके बाद अगली होई पर फिर चांदी के दो मनके माला में पिरोए जाते हैं। इस माला को भी पूजा में शामिल किया जाता है। जानें मासिक धर्म में अहोई अष्टमी व्रत पूजा कैसे करें ।

#AhoiAshtami2020 #PeriodMeAhoiAshtamiVrat
Browse more videos