Search
Library
Log in
Watch fullscreen
17 days ago

Matri Navami 2021 Date: मातृ नवमी 2021 कब है | मातृ नवमी श्राद्ध 2021 नियम | Boldsky

Boldsky
Boldsky
In Hindu religion, the rituals of Pind Daan and Tarpan are performed during every Shraddha Paksha or Pitru Paksha for the peace of the souls of the ancestors. It is considered extremely important to perform Shradh rituals, mainly during the sixteen days of Pitru Paksha, to maintain the blessings of the ancestors on the family. All the Shradhs that come in the meantime have special significance. But especially on Navami Tithi Matra Navami Shradh is considered very important. Matru Navami Shradh will be performed on the coming Thursday, 30 September 2021. According to Hindu religion, Shradh of Matri Navami is done on the ninth date of Krishna Paksha of Ashwin month. Let us tell you that on this day mainly family members perform Shradh for their mother and such women of the family who die in the form of a honeymoon. This is the reason why Shradh that falls on this day is called Matru Navami Shradh. It is mentioned in the scriptures that by performing Shradh rituals for the departed souls on this day, their soul gets peace and their blessings always remain on the family.

हिन्दू धर्म में पितरों की आत्मा की शांति के लिए हर श्राद्धपक्ष या पितृपक्ष के दौरान पिंडदान और तर्पण की क्रिया की जाती है. परिवार पर पितरों का आशीर्वाद बनाए रखने के लिए मुख्य रूप से सोलह दिनों के पितृपक्ष के दौरान श्राद्ध कर्म करना बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है. इस बीच आने वाले सभी श्राद्ध का विशेष महत्व है. लेकिन विशेष रूप से नवमी तिथि को किए जाने वाले मातृ नवमी श्राद्ध को बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है. आने वाले गुरुवार, 30 सितंबर 2021 को मातृ नवमी श्राद्ध किया जाएगा. हिन्दू धर्म के अनुसार मातृ नवमी का श्राद्ध, आश्विन माह के कृष्ण पक्ष की नवमी तिथि को किया जाता है. आपको बता दें कि इस दिन मुख्य रूप से परिवार के सदस्य अपनी माता और परिवार की ऐसी महिलाओं का श्राद्ध करते हैं जिनकी मृत्यु एक सुहागिन के रूप में होती है. यही कारण है कि इस दिन पड़ने वाले श्राद्ध को मातृ नवमी श्राद्ध कहते हैं. शास्त्रों में इस बात का उल्लेख मिलता है कि इस दिन दिवंगत आत्माओं के लिए श्राद्ध क्रिया करने से उनकी आत्मा को शांति मिलती है और उनका आशीर्वाद परिवार पर हमेशा बना रहता है.

#MatriNavami2021Date

Browse more videos

Browse more videos