Search
Library
Log in
Watch fullscreen
2 years ago|662 views

Ayodhya Verdict : Nirmohi Akhade का ये दावा Supreme Court ने किया खारिज | वनइंडिया हिंदी

The Supreme Court has decided in the Ayodhya case. The court has rejected the claim of Nirmohi Akhara. Let's take a look at what the Nirmohi Akhara claimed, which the Supreme Court rejected. Let us tell you that the Supreme Court has rejected the claim of Shia Waqf Board and Nirmohi Akhara on the Ayodhya issue. In this case, the court ruled on the arguments of two sides Ram Lala Vijarajaman and Sunni Waqf Board. The court had also told the Nirmohi Arena during the 40-day hearing that the claim of the worshiper can never be contrary to the deity. The court made this comment on Nirmohi Akhara's claim that the case of 'Ram Lala' should be dismissed and the disputed land in Ayodhya be given to him as he is the sole worshiper of Ram Lala.

सुप्रीम कोर्ट का अयोध्या मामले में फैसला आ गया है. कोर्ट ने निर्मोही अखाड़े का दावा खारिज कर दिया है. एक नजर डालते हैं कि निर्मोही अखाड़े ने क्या दावा किया था जिसे सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या मसले पर शिया वक्फ बोर्ड और निर्मोही अखाड़े का दावा खारिज कर दिया है. इस मामले में कोर्ट ने दो पक्षों राम लला विजराजमान और सुन्नी वक्फ बोर्ड की दलीलों पर फैसला सुनाया. कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के दौरान भी निर्मोही अखाड़े से कहा था कि उपासक का दावा कभी देवता के प्रतिकूल नहीं हो सकता. कोर्ट ने यह टिप्पणी निर्मोही अखाड़ा के उस दावे पर की थी जिसमें कहा गया था कि ‘राम लला’ का मुकदमा खारिज किया जाए और अयोध्या में विवादित भूमि उसे दी जाए क्योंकि वो राम लला का एकमात्र उपासक है.

#AyodhyaVerdict #SupremeCourt

Browse more videos

Browse more videos